Shri Krishna: देवकी के पहले पुत्र को लेकर कंस के पास पहुंचे बासुदेव - RkNewsroom

Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Shri Krishna: देवकी के पहले पुत्र को लेकर कंस के पास पहुंचे बासुदेव

टीवी पर श्री कृष्णा शुरू हो चुका है और यह शो लोगों को काफी पसंद आ रहा है। 5 मई को श्रीकृष्ण में दिखाया जा रहा था कि कंस अपनी बहन देवकी को व...

टीवी पर श्री कृष्णा शुरू हो चुका है और यह शो लोगों को काफी पसंद आ रहा है। 5 मई को श्रीकृष्ण में दिखाया जा रहा था कि कंस अपनी बहन देवकी को वासुदेव संघ ससुराल छोड़ने जा रहा था, लेकिन उसी वक्त आकाशवाणी होती है कि कंस को इतनी खुशी होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि देवकी की आठवीं संतान उसे मार डालेगा।

shri krishna


इस खबर को सुनकर कंस घबरा जाता है और अपनी बहन और वसुदेव को कारागार में बंद कर देता है। कंस अपनी बहन और वासुदेव की स्त्री को मारना चाहता था लेकिन वह सफल नहीं हो पाया। जब इस बात की खबर मथुरा के राजा अग्रसेन को हुई तो वह कंस पर काफी क्रोधित हुए थे।

shri krishna


अग्रसेन कंस से कहते हैं कि तुम्हें लज्जा नहीं आई अपनी ही बहन पर तलवार उठाते हुए। कंस कहता है कि मेरा धर्म प्राणों की रक्षा करना है और जब कभी भी लगेगा कि किसी भी स्त्री और बच्चे से मेरे प्राण को खतरा है तो मैं सब नष्ट कर दूंगा।



इसके बाद अग्रसेन कंस को देवकी और वासुदेव को रिहा करने को कहता है। कंस काफी अपमानित महसूस करते हैं। इसके बाद कंस बाणासुर से मिलते हैं और महाराज अग्रसेन की हत्या करने का साजिश करते हैं।